प्रेग्‍नेंट होने के बावजूद भी अगर खा ली है गर्भ निरोधक गोलियां तो क्‍या करें ?

गर्भावस्‍था की पहली तिमाही में गर्भ निरोधक गोलियों का इस्‍तेमाल नहीं किया जाता है और इस बात की जानकारी अमूमन सभी को होती है। बहुत ही कम मामलों में देखा जाता है जब गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करते हुए भी गर्भ ठहर जाए।

ऐसे में आपको पता भी नहीं होता कि आप गर्भवती हैं और अनजाने में आप गर्भनिरोध का सेवन करती रहती हैं। लेकिन जब आपको पता चल जाता है कि आप गर्भवती हैं तो ऐसे में आपको चिंता होती है कि कहीं गर्भ निरोधक गोलियां ने आपके भ्रूण को तो नुकसान नहीं पहुंचाया होगा।

सेहत विशेषज्ञों की मानें तो कुछ मामलों में महिलाएं अपने गर्भवती होने की जानकारी से अनभिज्ञ होती है और ऐसे में वो गर्भावस्‍था की पहली तिमाही में ही गर्भनिरोध का सेवन करती रहती हैं।

क्‍या ये खतरनाक है ?

क्‍या ये खतरनाक है ?
फिलहाल ऐसे कई साक्ष्‍य मौजूद हैं जो ये साबित करते हैं कि गर्भ‍ निरोधक गोलियों का सेवन करने से भ्रूण को नुकसान पहुंचता है।

क्‍या हार्मोन से भ्रूण को पहुंचता है नुकसान

क्‍या हार्मोन से भ्रूण को पहुंचता है नुकसान
कई महिलाएं सोचती हैं गर्भ निरोधक गोलियों के हार्मोन से बच्‍चे में कोई विकार हो सकता है। इसलिए गर्भधारण करते ही तुरंत इन दवाओं का सेवन बंद कर देना चाहिए।

क्‍या है सेहत विशेषज्ञों का कहना

क्‍या है सेहत विशेषज्ञों का कहना
सेहत विशेषज्ञों का कहना है कि महिलाओं के गर्भावस्‍थाके दौरान प्रोजेस्टिन पिल्‍स लेने से एक्‍टोपिक प्रेग्‍नेंसी का खतरा बढ़ जाता है।

क्‍या है खतरा ?

क्‍या है खतरा ?
गर्भावस्‍था के पहले चरण में गर्भनिरोधक गोलियों के इस्‍तेमाल से बच्‍चे में अपरिक्‍वता, वजन में कमी या मूत्राशय तंत्र में किसी विकारा का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि सेहत विशेषज्ञों का कहना है कि इसइस बात का खतरा काफी कम होता है।

डॉक्‍टर से क्‍यों करें परामर्श

डॉक्‍टर से क्‍यों करें परामर्श
चूंकि खतरा बहुत कम होता है इसलिए आप‍को डॉक्‍टर से सलाह ले लेनी चाहिए। अगर आपको लग रहा है कि आप गर्भवती हैं और इसके बावजूद आपने गर्भ निरोधक गोलियां का सेवन किया है तो एक बार खुद भी परीक्षण कर लें।

निष्‍कर्ष
गर्भ‍ निरोधक गोलियां का भ्रूण पर हानिकारक प्रभाव पड़ने का खतरा बहुत कम होता है। यहां तक कि गर्भपात का खतरा भी बहुत कम रहता है। लेकिन फिर भी आपको एक बार डॉक्‍टर से परामर्श जरूर कर लेना चाहिए।

 

Inderpreet Sharma