‘स्पर्म’ से जुड़ा यह फंडा तो बताता है कि आप भी लाखों में एक हो, जानिए ऐसे

‘स्पर्म’ जैसी चीजों के बारे में कुछ वक्त पहले तक तो खुलकर बात नहीं की जाती थी। मगर ‘स्पर्म डोनेशन’ के सब्जेक्ट पर बनी फिल्म ‘विक्की डोनर’ के आने के बाद लोगों के लिए यह सब्जेक्ट कोई बड़ी बात नहीं रह गया है। अब लोग इसके बारे में भी बात कर लेते हैं। और करनी भी चाहिए, आखिर यह भी तो शरीर का ही एक हिस्सा होता है। कुछ लोग ‘वीर्य’ को ही ‘स्पर्म’ मानते हैं, लेकिन ‘स्पर्म’ तो पुरुषों के ‘वीर्य’ में पाई जाने वाली एक तरह की कोशिकाएं ही होती हैं। यही 0.05 मिलीमीटर का ‘स्पर्म’ आगे जाकर एक पूरा इंसान बन जाता है।

‘स्पर्म’ के बारे में आपने कई बातें पढ़ी और सुनी होंगी लेकिन आज हम आपको ‘स्पर्म’ के बारे में जो बताने जा रहे हैं, वो शायद आपने पहले नहीं सुना होगा। तो बस बिना देर किए आप पढ़िए यह स्टोरी।

इन्होंने की थी ‘स्पर्म’ की खोज

इन्होंने की थी 'स्पर्म' की खोज

‘स्पर्म’ की खोज 1677 में एक डच माइक्रोस्कोप निर्माता ने की थी। वो खुद नहीं जानते थे कि उन्होंने इसकी खोज क्यों की?

हस्तमैथुन से नहीं पड़ता असर

हस्तमैथुन से नहीं पड़ता असर

‘सेक्स’ और ‘हस्तमैथुन’ के बारे में लोगों में कई गलतफहमियां हैं। उनमें से एक हम अभी दूर कर देते हैं। Southern California Reproductive Center के M.D. Carrie Wambach के अनुसार ज्यादा ‘सेक्स’ या ‘हस्तमैथुन’ से ‘वीर्य’ की मात्रा कम हो सकती है, लेकिन ‘स्पर्म काउंट’ कम नहीं होता।

आगे जानिये कौन सी चीज करती है ‘स्पर्म काउंट’ को कम।

गर्मी से कम होता है ‘स्पर्म’

गर्मी से कम होता है 'स्पर्म'

गर्मी न इंसानों से सही जाती है न ‘स्पर्म’ से। गर्मी का ‘स्पर्म’ पर विपरीत असर पड़ता है। ‘स्पर्म’ बॉडी के अन्य हिस्सों की तुलना में सात डिग्री फ़ारेनहाइट ज्यादा ठन्डे में रहता है।

सनस्क्रीन है हानिकारक
सनस्क्रीन है हानिकारककुछ वैज्ञानिकों के अनुसार सनस्क्रीन और कॉस्मेटिक्स ‘स्पर्म’ पर बुरा असर डालते हैं। कॉस्मेटिक्स से पुरुषों को सावधान रहना चाहिए।

आगे जानिये कितना होता है, एवरेज ‘स्पर्म काउंट’।

इतना होता है एवरेज ‘स्पर्म काउंट’
इतना होता है एवरेज 'स्पर्म काउंट'‘स्पर्म काउंट’ टर्म आपने सुनी तो कई बार होगी, लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक एवरेज ‘स्पर्म काउंट’ 30 लाख होता है जो कि एक टी-स्पून का भी दो तिहाई होता है।

इतना सारा ‘स्पर्म’
इतना सारा 'स्पर्म'पुरुषों के शरीर में ज़िंदगी भर इतना सारा ‘स्पर्म’ बनता है कि अगर एक बार में पूरी जिंदगी का ‘स्पर्म’ निकाल दिया जाए और उसे मिलाकर लाइन बनाई जाए तो उसकी लम्बाई 6 मील तक हो सकती है।

आगे जानिये हर सेकंड पैदा होते हैं कितने ‘स्पर्म’ सेल।

एक सेकंड में होते हैं इतने ‘स्पर्म’ सेल
एक सेकंड में होते हैं इतने 'स्पर्म' सेल

ये बात शायद आप नहीं जानते होंगे कि हमारे शरीर में ‘स्पर्म’ सेल्स हर सेकंड पैदा होते हैं। आमतौर पर पुरुष एक सेकंड में 1,500 ‘स्पर्म’ सेल पैदा करते हैं।

लाखों में एक
लाखों में एकलाखों ‘स्पर्म’ में से एक ‘स्पर्म’ ही महिला के अंडाणु के साथ प्रजनन करता है। इस वजह से आप भी लाखों में एक हैं।

आगे दो और ‘स्पर्म’ फैक्ट्स बाकी हैं।

इतने ‘स्पर्म’ होते हैं खराब
इतने 'स्पर्म' होते हैं खराबजिस तरह इंजीनियरिंग कॉलेजों से हर साल बनने वाले ज्यादातर इंजीनियर्स खराब ही होते हैं। बिल्कुल उसी तरह ‘वीर्य’ में निकलने वाले 90 प्रतिशत ‘स्पर्म’ खराब (Distorted) होते हैं।

आधा ‘स्पर्म’ ही तैरता है सीधा
आधा 'स्पर्म' ही तैरता है सीधाज्यादातर इंसानों की तरह ज्यादातर ‘स्पर्म’ भी टेढ़े-मेढ़े ही चलते हैं। यानी कि औसतन इंसान का आधा ‘स्पर्म’ ही सीधा तैरता है। बाकी ‘स्पर्म’ तो ‘वीर्य’ के निकलते ही अलग-अलग हो जाते हैं। कुछ सर्किल के चारों तरफ तैरते हैं।

Inderpreet Sharma